How many types of social group in sociology full detailed introduction



How many types of social group in sociology understand with full detailed introduction

How many types of social group in sociology understand with full detailed introduction

क्या आप भी किसी whatsapp group के सदस्य हैं


क्या आप किसी भी group के सदस्य हैं क्या आप किसी समूह का निर्माण कर चुके हैं क्या करना चाहते हैं तो क्या आप  समूह के बारे में जानते हैं

आज मैं आपको समूह How many types of social group in sociology understand with full detailed introduction महत्वपूर्ण बातें बता रहा हूं जो कि समाजशास्त्र विषय से मेल खाती हैं तो आप तैयार हो जाइए समूह के बारे में संपूर्ण जानकारी पाने के लिए और नीचे समूह की सभी विशेषताओं का वर्णन भी किया गया है
Group का निर्माण कैसे करते हैं मैं इसके बारे में भी बताऊंगा समूह का निर्माण कब करना चाहिए और क्यों करना चाहिए यह भी आपको जानना बहुत ही जरूरी होगा

समूह का निर्माण करते समय बहुत सी बातों का ध्यान रखना अनिवार्य होता है इसे आप नजरअंदाज नहीं कर सकते ताकि आपका समूह या ग्रुप लंबे समय तक चले और कार्यरत रहे

 समूह के बारे में विभिन्न विचार कौन है अपने मत भी प्रकट किए हैं इसके बारे में मैं आज आपको बताने जा रहा हूं और उन्होंने जो मत प्रकट करें उसे प्रस्तुत भी कर रहा हूं
How many types of social group in sociology understand with full detailed introduction



Are you a member of any whatsapp group.Are you a member of any group, have you formed a group, what do you want to do, then do you know about the group? Today I am telling you some important things about the group that correspond to the subject of sociology If you are ready then get complete information about the group and all the characteristics of the group are also described below.

I will also tell about how to form a group, you will also need to know when to build a group and why.

It is essential to keep many things in mind while building a group, so that you cannot ignore it so that your group or group lasts long and continues to work.
 I am going to tell you today about who has different views about the group and has also expressed their views and they are also presenting their opinion.




समूह/Group

How many types of social group in sociology understand with full detailed introduction

मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है एवं समाज में रहता है परंतु वह समाज की अनुभूति करता है उसे देखकर महसूस नहीं कर सकता लेकिन  जब से वह जन्म लेता है अति आवश्यकता की पूर्ति किसी न किसी समूह के माध्यम से करता रहता है इसी संबंध में एडवर्ड सा पीर का मत है कि किसी समूह का निर्माण इस तथ्य पर आधारित होता है कि कोई स्वार्थ समूह के सदस्य को आपस में  बांधे रखता है। 

निर्माण के लिए पारस्परिक जागरूकता तथा समान लक्ष्य का होना अनिवार्य है मात्र पारस्परिक जागरूकता से ही जैसे उदाहरण के तौर पर नेता और जनता पारस्परिक जागरूकता तो होती है परंतु सामान्य लक्ष्य नहीं होता वहीं दूसरा उदाहरण बस के चालक तथा यात्रियों का है बस के चालक तथा यात्रियों में सामान्यता तो होती है ।पारस्परिक स्वार्थ नहीं होता सामान्यता पारस्परिक जागरूकता से तात्पर्य एक दूसरे को पहचानने से है


Group Description


Man is a social animal and lives in the society but he does not feel the feeling of society, but since he is born, he fulfills the most important needs through some group, in this regard, Edward Sa Pir Is of the opinion that the formation of a group is based on the fact that one selfishly binds the group member.

For building, it is necessary to have mutual awareness and common goals only through mutual awareness, for example, leaders and public have mutual awareness but not a common goal, while another example is of bus drivers and passengers, bus drivers and passengers. There is normalcy. There is no mutual interest. Normality means mutual awareness of each other. Recognizing
परिभाषा

मैंकईबार

 तथापि जिनके अनुसार समूह से तात्पर्य प्राणियों के संकलन एवं सामाजिक संबंध स्थापित करने से है

 गैलन तथा गैलन 


सामाजिक समूह की उत्पत्ति व्यक्तियों के अर्थ पूर्ण उत्तेजना प्रतिक्रिया सामान्य चालकों का विकास हो सके इसी आधार पर किया जाता है 
 हाटर्न
समूह व्यक्तियों का संग्रह अथवा श्रेणी अंतर क्रिया की चेतना है

Definition in English

How many types of social group in sociology understand with full detailed introduction

 However according to which group means to collect animals and establish social relations.


Gillins and gillins


The origin of a social group is based on the ability of individuals to develop complete stimulus response to normal drivers.
 Hot
A group is a collection of individuals or a consciousness of category difference action


 गांफमैन


समूह व्यक्तियों के स्तर पर आधारित होता कि वह अपने संबंधों को किस स्तर तक ले जाना चाहता है

 समूह के प्रकार 
 एचसी कोले ने  दो भागों में बांटा है
 १.प्राथमिक समूह
 २. द्वितीय समूह

प्राथमिक समूह


 यह अवधारणा सर्वप्रथम खुले ने अपनी पुस्तक सोशल ऑर्गेनाइजेशन प्रस्तुत की थी 
 उन्होंने बताया था कि प्राथमिक समूह की विशेषताएं होना अनिवार्य है
 छोटा आकार ,आमने-सामने का संबंध ,हम की भावना ,स्वार्थ परक ,सामान्य उद्देश्य,
 संबंध स्वयं  साध्य।

उदाहरण के तौर पर कुल इन्हें 3 प्राथमिक समूह का उल्लेख किया है 
परिवार पड़ोस रक्त संबंधी

 द्वितीय समूह

 ट्विस्टेड ने कहा है वह समूह जो स्वार्थ पूर्ति के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण होते हैं व्यक्ति अपनी अधिक आवश्यकता की पूर्ति से भी करता है ऐसे समूह में घनिष्ठता का अभाव होता है।

द्वितीय समूह की विशेषता 


१.बड़ा आकार
२.अत्यधिक संबंध 
३.अस्थाई संबंध
४. पारस्परिक निर्भरता
५. एकशिक्षक सदस्यता


 Gaffman


The group is based on the level of individuals to what level they want to take their relationship.
How many types of social group in sociology understand with full detailed introduction


 Type of group

 HC Cole has divided into two
 1. Primary Group
 2. Second group

Primary group


 This concept was first presented by Khulay in his book Social Organization
 He told that it is mandatory to have the characteristics of primary group
 Small size, face to face relationship, our sense of self, selfishness, general purpose,
 The relationship itself is provable.

For example, they have mentioned 3 primary groups in total.
Family Neighborhood Blood Related

 Second group

 Twisted has said that the group which is important from the point of view of self-interest, the person also fulfills his greater need, such a group lacks intimacy.

Second Group Feature


1.Large size
2. More Relationship
3. Permanent Relations
4. Mutual dependence
5. Teacher membership


 डब्लू जी समनर


डब्लू जी ने अपनी पुस्तक में समूह की अवधारणा को प्रस्तुत किया है अंतः समूह तथा बाहर  समूह

अंता  समूह तथा बाहर समूह मुख्यतः एक मनोवैज्ञानिक या भावनात्मक अवधारणा है जिसमें व्यक्ति अपने और दूसरों का भाव रखते हैं परंतु अंतः समूह तथा बाहर समूह की भावना निश्चित नहीं होती यह समय और स्थान के अभाव में आकर बदल जाती हैं अंतः समूह और बाहर समूह भारत के प्रत्येक परिवार या समुदाय में देखने को मिलता है इस प्रकार कहा जा सकता है कि व्यक्ति अंतः समूह से हम की भावना ,निकटता ,सहयोग तथा निष्ठा का भाव महसूस करता है वही बाहर समूह से दूरी, प्रतिस्पर्धा का भाव महसूस करता है


 WG Sumner


WG has introduced the concept of group in his book, In-group and out-group.

Anta group and outside group is mainly a psychological or emotional concept in which individuals have feelings for themselves and others but the feeling of inner group and outside group is not fixed, it changes due to lack of time and space. It is seen in every family or community, thus it can be said that our feeling, closeness, cooperation and loyalty from individual group Feels the sense of competition, distance from outside group


गिड्डिंग्स ने चार भागों में बांटा है


जननिक समूह

 से तात्पर्य ऐसे समूहों से है जिस की सदस्यता जन्म से प्राप्त होती है जैसे कि उदाहरण के तौर पर परिवार

 इकट्ठे समूह 

इकट्ठे समूह से तात्पर्य जिनकी सदस्यता एकत्रित होती है जैसे कि मित्र समूह

 वियोजक समूह 

 समूह से तात्पर्य जो अन्य समूह को सदस्यता की अनुमति नहीं देते

 शमिश्रित समूह

 जो समूह अन्य समूह को सदस्यता प्रदान करते हैं


मिलर 

मिलर ने समूह को दो भागों में बांटा है

ऊर्ध्वाधर 

आकार में बहुत छोटे होते हैं एवं इनका संबंध ऊपर नीचे आमने-सामने की स्थिति में होता है जैसे अधिकारी और चपरासी का समूह

क्षेतिज समूह 

समूह आकार में बड़े होते हैं इनका संबंध एक मित्र मंडल समूह के रूप में जाना जाता है


Gidding divided into four


Genetic group


 Refers to groups whose membership is derived from births such as for example family

 Assembled group

Assembled group means whose membership is collected, such as a friend group

 Resolver group

 Group means that does not allow membership to another group

 Mixed group

 Groups that provide membership to other groups


Miller

Miller has divided the group into two

Vertical group

They are very small in size and are in a face-to-face position up and down, such as officers and peons.


Horizontal Group

Groups are large in size and are known as a friend group.

Post a Comment

0 Comments